information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में

नमस्कार | दोस्तों ,🙏

information about kerala in hindi language – मेरा नाम अमन है और मै आपको आज भारत के खुबसूरत राज्यों में से एक केरल राज्य के बारे में बताने जा रहा हूँ जो की भारत का 100 % (प्रतिशत) वाला शिक्षित राज्य माना जाता है जो  44 नदियों को आपस में जोड़े हुए और अपने शांत समुद्र तथा खुबसूरत  बैकवाटर , और घने हिल स्टेशन जैसे अद्भुत दृश्य वाले अच्छे-अच्छे जगहों के लिए जाना जाता है तो आइये आज हम आपको घर बैठे-बैठे केरल की सैर कराते है और केरल के बारे में अच्छी-अच्छी जानकारी देते है

about kerala in hindi | केरल की जानकारी हिंदी में
kerala India

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में | best time to visit kerala | केरल की जानकारी हिंदी में | केरल की हिंदी जानकारी -😎

समय बचाने के लिए,click here

information about kerala in hindi language –  एक राज्य के रूप में केरल का स्थापना 1 नवम्बर सन 1961 ई में हुआ जिसका राजधानी तिरुवनंतपुरम है और यहाँ की मुख्य भाषा मलयालम है यहाँ हिन्दू  मुसलमान , इसाई , के अलावा जैन , बौद्ध , पारसी , सिक्ख , बहाई ,  धर्मावलम्बी के लोग भी बड़ी संख्या में मौजूद है यहाँ के लोग एक दुसरे से मिलजुल कर रहते है जो एक भाईचारे का संकेत भी देता है केरल राज्य भारत के दक्षिण किनारे पर स्थित है जो तमिलनाडु और कर्नाटक राज्यों से सटा हुआ है

तथा भारत के दक्षिण-पश्चिमी सीमा पर अरब समुद्र और सह्याद्रि पर्वत श्रृंखला , हिन्द महासागर का एक बहुत ही आकर्षक इलाका मौजूद है

इस पुरे राज्य का क्षेत्रफल लगभग 38863 वर्ग किलोमीटर है जो अपनी संस्कृति और भाषा के कारण पहचाने जाने वाले भारत के दक्षिण 4 राज्यों में स्थित केरल राज्य की  प्रधानता है इसे ईश्वर का अपना घर (God’s Own Country) के नाम से भी जाना है 

About kerala in hindi language | What is famous Kerala? | What things are famous in Kerala?| tourist places in kerala with pictures |  केरल में क्या प्रसिद्ध है? | केरल की जानकारी हिंदी में |  केरल के बारे में –

केरल में  घुमने वाले जगह -😃😍

  • थेक्कड़ी – वन्यजीवों का स्थान ( wildlife spot)
  • वायनाड – सादा जीवन व संस्कृति (simple life and culture)
  • मुन्नार – हनीमून गंतव्य (Honeymoon destination)
  • पूवार बीच  – सौंदर्यपूर्ण द्वीप (Beautiful Island)
  • आलप्पुझा  – पूर्व का वैनिस (Venice of the East)
  • कोच्चि – अरब सागर की रानी (Queen of Arabian sea)
  • श्री पद्मनाभास्वामी मंदिर – धार्मिकता की गूँज (Echo of righteousness)
  • कोवलम – ग्रामीण जीवन व बीच का संगम (Rural life and the middle)

 

थेक्कड़ी केरल | वन्यजीवों का स्थान केरल | Thekkady Kerala | wildlife spot In Kerala – 

information about kerala in hindi language –  केरल के मुख्य हिल स्टेशनो में से एक थेक्कड़ी भी शामिल है जहां घुमने के लिए हज़ारो लोग दूर-दूर से आते है और इसकी खूबसूरती की लुफ्त उठाते है यह दक्षिण भारत में स्थित प्रमुख हिल स्टेशनो में से एक है यह पर्वतीय स्थान के इडुक्की जिले में स्थित है यह स्थान पुण्यस्थान (sanctuary) , वन्यजीवों के लिए जाना जाता है अगर आप प्राकृतिक को महसूस करना चाहते है या एडवेंचर के प्रिय है तो आप इस स्थान पर जरुर जाएँ पेरियार वन्यजीव अभयारण्य भारत के सबसे प्रमुख राष्ट्रिय उद्यानों में शामिल है यहाँ आप अनेक प्रकार के वन्य जिव जैसे – बाघ , हाथी , गौर ,लंगूर , सांभर , जंगली सूअर , निलगिरी ,जंगली बिल्ली आदि देखने को मिलेंगे  !

About Kerala in Hindi language
Thekkady Kerala

और साथ-साथ लगभग 40 प्रजातियों की मछलियां और  265 प्रजाति के पक्षि भी मौजूद है यहाँ आप बंबू राफ्टिंग भी कर सकते है और इसके सहारे आप जंगल के एनी प्राणियों को भी देख सकते है तथा चारो तरफ से घने जंगलो में आप थेक्कड़ी झील भी घूम सकते है आगे आप झरनों के शौक़ीन है तो आप इडुक्की जिले के अनाकारा गाँव में भी घूम सकते है जहां आपको बहुत  ही खुबसूरत झरना एवं बेहद आकर्षक नज़ारे देखने को मिलेंगे जहां आप ट्रैकिंग पैराग्लाइडिंग भी कर सकते है 

About Kerala in Hindi language
थेक्कड़ी केरल

वायनाड केरल  | सादा जीवन व संस्कृति केरल में | Wayanad Kerala | Simple Life And culture In Kerala –

information about kerala in hindi language –  वायनाड का अर्थ धान के ‘खेतो की भूमि’भी होता है जो की सबसे ज्यादा सुन्दर एवं हरियाली वाला जगह माना जाता है जो केरल के प्रमुख शहरो में से एक है जहां आप बहुत से जगहों का भी लुफ्त उठा सकते है यहाँ भी बड़ी मात्रा में पर्यटक आते है और इस जगह का आनंद उठाते है क्युकी यह जगह हरियालियों से भरा हुआ है और आप यहाँ एकदम ताज़ी हवा का एहसास कर सकते है और यह प्रदूषण मुक्त जगह है अगर आप केरल जाते है तो इस जगह को बिलकुल न भूले   

About Kerala in Hindi language
Wayanad Kerala
वायनाड में घुमने वाले प्रमुख स्थान -😎
About Kerala in Hindi language
वायनाड केरल

मुन्नार केरल | हनीमून गंतव्य केरल | | Munnar Kerala | Honeymoon Destination Kerala –

information about kerala in hindi language –  मुन्नार जो की समुद्र तट से लगभग 1600 मीटर की उंचाई पर स्थित एक हिल स्टेशन और हनीमून स्थान भी माना जाता जाता है अगर आप शादी-सुदा है तो इस स्थान पर जाना बिलकुल ना भूले यहाँ जाकर आप दुनिया के सारे परेशानी से दूर बिलकुल शांत और बहुत ही सुकून अनुभव करेंगे यहाँ पर मुतिरापूझा, नल्लथन्नी और कुंडला नामक तीन पहाड़ियों की धाराएं  मिलती है  और तब वहां से मुन्नार आरंभ होता है😊

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
Munnar Kerala Honeymoon Spot

 

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
Resorts In Kerala

जब आप पहाडो के ऊपर जायेंगे तो आपको ऐसा एहसास होगा की आप बादलो के ऊपर हो और आप अपने हाथो से बादलो को स्पर्श कर सकते है लेकिन वो तो धुंआ (कोहरा) है तो जाहिर सी बात वो स्पर्श नहीं होगा😄 लेकिन हा आप एहसास तो जरुर कर सकते है और इन पहाडो पर अव्यवस्थित फैले हुए चाय का उत्पादन किया गया है यह छुट्टी मनाने के लिए बहुत ही दिलचस्प जगह  है जिसे आप एक यादगार और खुशनुमा पल भी बना सकते है

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
मुन्नार केरल

मुन्नार में घुमने वाले प्रमुख स्थान – 

  • माट्टूपेट्टी
  • आनामुड़ी चोटी
  • टॉप स्टेशन
  • चिन्नक्कनाल और आनयिरंगल
  • इरविकुलम राष्ट्रीय उद्यान
  • पल्लिवासल
  • चाय का म्यूज़ियम (चाय संग्रहालय)

Mattupetty Dam In Keral | माट्टूपेट्टी केरल  –

information about kerala in hindi language –  मुन्नार से लगभग 13 किलोमीटर की दुरी पर स्थित पक्का बांध ,और खुबसूरत झील के लिए माट्टूपेट्टी प्रसिद्ध है यहाँ एक गोशाला(dairy) भी उपलब्ध है  जहां पर आप  अलग-अलग नस्लों के गायों को देख सकते है यहाँ आप बोट की यात्रा करने के साथ-साथ आस-पास के पहाड़ियों का अद्भुत नज़ारा भी देख सकते है

information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में-
Mattupetty Dam Keral
 
Anamudi Peak Keral | आनामुड़ी चोटी केरल  –

information about kerala in hindi language –  यह लगभग 2700 मीटर ऊँची दक्षिण भारत की सबसे ऊँची चोटी है जो इरविकुलम राष्ट्रीय उद्यान के अन्दर मौजूद है आप उसमे उपस्थित अधिकारीयों  की अनुमति लेने के बाद उस पर्वत पर ट्रेकिंग भी कर सकते है

information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में-
Anamudi-Peak

 

information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में-
Anamudi Peak Keral
Melattur Railway Station Keral | टॉप स्टेशन केरल  – 

information about kerala in hindi language –  यह मुन्नार से लगभग 32 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है जो मुन्नार का  सबसे प्रमुख स्थान माना जाता है मुन्नार घुमने वाले पर्यटक टॉप स्टेशन जरुर जाते है यहाँ की उंचाई पर जाने के बाद आप पडोसी राज्य तमिलनाडु का आकर्षक नज़ारा भी देख सकते है 

information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में-
melattur railway station kerala
 
Chinnakanal and Anayirangal Dam Keral | चिन्नक्कनाल और आनयिरंगल बाँध केरल  –

information about kerala in hindi language –  यह जगह अपने खुबसूरत जलप्रपात जे लिए जाना जाता है जिसे ‘पावर हाउस वाटरफॉल’ भी कहा जाता है जिसका पानी समुद्र तल से लगभग 2000 मीटर की उंचाई से चट्टानों के ऊपर गिरता है जो दिखने में बहुत ही अद्भुत और बहुत ही खुबसूरत लगता है जिसे देखने के लिए भारी संख्या में लोग जाते है और वहाँ का लुफ्त उठाते है 

information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में-
Chinnakanal and Anayirangal Dam In Keral
 
Eravikulam National Park Keral | इरविकुलम राष्ट्रीय उद्यान केरल  –

यह एक बहुत ही आकर्षक और मन को मोहने वाला राष्ट्रीय उद्यान है जो लगभग 97 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है यहाँ आप पक्षि , जानवर , और  तितलियों की अनेक प्रजातियों को देख सकते है यह जगह ट्रैकिंग करने के लिए भी जाना जाता है यहाँ आपको चाय का बागान देखने को भी मिलेगा जो इस उद्यान में ओस (Fog) से पूरा ढका हुआ रहता है मानो जैसे किसी ने सफ़ेद  चादर से उस चाय के बागान को ढक दिया हो जो दिखने में बहुत ही ज्यादा उम्दा लगता है 😍

information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में-
Eravikulam National Park Keral
 
Pallivasal  Waterfalls In Keral | पल्लिवासल जल-प्रपात केरल  –

information about kerala in hindi language –  यह एक तरह का पिकनिक स्पॉट भी जाता है यहाँ पर ज्यादातर लोग पिकनिक मनाने के लिए आते है यहाँ एक बहुत ही आकर्षक झरना भी मौजूद है जिसे देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते है  यह मुन्नार के चितिरापुरम नामक जगह से लगभग 3 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है जहां केरल का पहला हाइड्रो-इलेक्ट्रिक परियोजना का स्थापना किया गया है 

information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में-
Pallivasal Waterfall Keral
TATA Tea Museum, Munnar: How To Reach, Best Time & Tips
 
TATA Tea Museum In Keral | टाटा चाय म्यूज़ियम केरल  (चाय संग्रहालय) – 

मुन्नार में कुछ वर्ष पहले टाटा टी के द्वारा चाय का संग्रहालय स्थापित किया गया है जहां आपको  तस्वीरें , कलाकृतियाँ और मशीनरी देखने को मिलेगा और बागानों के विकास के लिए कुछ जानकारी भी मिल जाएगी जहां लोग चाय के बारे में जानने के लिए तथा चाय की खेती से जुड़े जानकारी के लिए भी लोग जाते है 

information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में-
TATA Tea Museum Keral

पूवार बीच केरल | सौंदर्यपूर्ण द्वीप केरल | Poovar Island Kerala | Beautiful Island Kerala –

information about kerala in hindi language –  यह बिच अरब सागर में गिरने वाली नेय्यार नदी के ज्वारनदमुख पर स्थित है यह एक बहुत ही सुन्दर द्वीप है जो तिरुवनंतपुरम से 23  तथा कोवलम से लगभग 12  किलोमीटर की दुरी पर स्थित है यह एक शांति बिच भी माना जाता है यहाँ पर लोग नौकायान करने का  लुफ्त उठाने भी आते है यहाँ आप बड़ी संख्या में अलग-अलग तरह के जिव-जन्तुओ को भी देख सकते है तथा इसकी मुलायम रेत के ऊपर बैठकर पिकनिक करने का मज़ा ही अलग है 

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
Poovar Island Kerala

 

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
पूवार बीच केरल

 

आलप्पुझा केरल | अल्लेप्पी केरल | पूर्व का वेनिस केरल | Alappuzha Kerala | Venice of the East Kerala –

यह जगह बांध  (backwater) यात्रा करने के लिए जाना जाता है जो लोगो को अपने तरफ आकर्षित करता है तथा यहाँ बोट रेस देखने के लिए भी भारी संख्या में पर्यटक आते है  इसे पूर्व का वेनिस भी कहा जाता है यह एक पिकनिक स्पॉट है जहां पर आप लाइट हाउस भी देख सकते है यहाँ का सबसे आनंदायक समय हाउस बोट में यात्रा करना है जो नारियल के पेड़ो के बिच से होकर गुजरते  हुए नौकाये जिसे देख कर आप हाउस बोटिंग करने के लिए अपने आप को रोक नहीं पाएंगे यहाँ आप केरल की भोजन का भी स्वाद ले सकते है 

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
Alappuzha Kerala house boat

 

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
आलप्पुझा केरल
आलप्पुझा में हाउस बोटिंग बुकिंग के लिए सम्पर्क करें – 

मोबाइल नंबर –  09400051796, 09447483308, +91 477 2251796, +91 477

  Where is the house boat in Kerala? | केरल में हाउस बोट कहाँ- कहाँ होता है ?

 
  • एर्नाकुलम
  • तिरुवनंतपुरम
  • आलप्पुझा
  • कोल्लम, कोट्टयम
  • त्रिश्शूर
  • कासरगोड
 

कोच्चि केरल | अरब सागर की रानी केरल | Queen Of Arabian Sea In Kerala | Kochi Kerala – 

खूबसूरती से भरा हुआ और एतिहासिक जगहों के बारे में घूमना चाहते है तो आप कोच्ची जाना बिलकुल न भूले क्युकी यहाँ सुन्दरता के साथ-साथ हर द्वीप पर इतिहास गुप्त है जिसके अनुसार  लोगो को नयी -नयी बातो की जानकारी होती है आप यहाँ की आकर्षक चीजो को देखना चाहते है तो आप पैदल सैर पर निकले जो आपके लिए उत्तम होगा अगर आप थोडा अलग दिखना चाहते है तो आप स्ट्रॉ हैट में सजकर निकले जो आपके लिए एक अलग ही एहसास होगा 

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
कोच्चि केरल

कोच्ची के आस-पास घुमने वाले जगह –

  • फोरट इमैन्युअल
  • डच कब्रिस्तान (साउथ इंडिया के चर्च द्वारा संचालित) 
  • परेड ग्राउंड
  • सेंट फ्रांसिस चर्च
  • वास्को-डि-गामा
  • चर्च रोड
  • कोचीन क्लब
  • दुर्ग- बास्टियन बंगलो
  • पियर्स लेसले बंगलो
  • वास्को-डि-गामा स्क्वेयर
  • कोडर हाउस
  • प्रिंसेस स्ट्रीट
  • सांता क्रूज बैसिलिका
  • बिशप हाउस

श्री पद्मनाभास्वामी मंदिर केरल | धार्मिकता की गूँज केरल | केरल में सबसे प्रसिद्ध मंदिर कौन सा है? | पद्मनाभस्वामी मंदिर कहां पर है | Echo of righteousness In Kerala | Where Is Sree Padmanabhaswamy Temple ? –

यह तिरुवनंतपुरम के पूर्वी किले के अन्दर स्थित भगवान् विष्णु जी का बहुत ही पवित्र मंदिर जो दुनिया के सबसे धनि मंदिरों में शामिल है जिसे भारत का दिव्य देसम भी कहा जाता है इस मंदिर में लगभग 1208 शालिग्राम हैं जो नेपाल के गंधकी नदी के किनारे से लाया गया था इस मंदिर का जो मुख्य प्रतिमा है वो लगभग 18 फिट लम्बा है तथा इसका ध्वज स्तम्भ 80 फिट ऊँचा है यह भगवान विष्णु के 108 पवित्र मंदिरों में से एक माना जाता है जिसका इतिहास 8वीं सदी से माना जाता है यह भगवान विष्णु जी का प्रमुख मंदिर है जिनकी प्रतिमा सर्प अनंत पर लेटे हैं जिसका पुनर्निर्माण त्रावनकोर के महाराजा मार्तड वर्मा ने  1733 ई  में कराया था 

इस मंदिर के 6 तहखानो से अभी तक लगभग  1,32,000 करोड़ तक का धन मिल चूका  है जिसमे भगवान विष्णु जी की 3.5 फुट सोने की मूर्ति और 18 फुट लम्बे सोने की चैन भी शामिल है

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
श्री पद्मनाभास्वामी मंदिर केरल

श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर में पूजा करने का समय | Worship Timings at Sree Padmanabhaswamy Temple –

  • प्रातः 3:30  बजे से   04:45 तक (निर्माल्य दर्शन 
  • प्रातः 6:30 बजे से प्रातः 07:00 बजे तक
  • प्रातः 8.30 बजे से प्रातः 10:00 बजे तक
  • प्रातः 10:30 बजे से प्रातः 11:10 बजे तक
  • प्रातः 11:45 बजे से 12:00 बजे पूर्वाहन तक  (शाम का समय )
  • सायं 5:00 बजे से 06:15 बजे तक
  • सायं 6:45 बजे से 07:20 बजे पूर्वाहन तक  (शाम का समय ) 
About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
Sree Padmanabhaswamy Temple Kerala

श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर कैसे जाएँ ? | How to reach Sree Padmanabhaswamy Temple –

 How To Reach Sree Padmanabhaswamy Temple By Train | ट्रेन के माध्यम से श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर कैसे जाएँ –

 मंदिर के सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन तिरुवनंतपुरम सेंट्रल है जो लगभग 1 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है तो आप सीधा तिरुवनंतपुरम के रेलवे स्टेशन पर उतरे और वहा से टैक्सी, कैब कर के मंदिर तक जा सकते है

How To Reach Sree Padmanabhaswamy Temple By Flight | हवाई यात्रा के माध्यम से श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर कैसे जाएँ –

अगर आप हवाई यात्रा के माध्यम से जाना चाहते है तो मंदिर के सबसे निकट हवाई अड्डा तिरुवनंतपुरम अन्तराष्ट्रीय हवाई अड्डा है यहाँ उतरने के बाद आप टैक्सी ,कैब कर के मंदिर तक जा सकते है

कोवलम केरल | ग्रामीण जीवन व बीच का संगम केरल में | Rural life In Kerala | places to visit in kovalam –

तिरुवंतपुरम से कोवलम लगभग 16 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है जो अरब सागर के समुद्री के तटीय इलाको पर बसा एक खुबसूरत गाँव है जहा 3 समुद्री तट आपस में जुड़े हुए है यह एक अंतराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त समुद्री तट है जहां ज्यादातर लोग धुप सेकने और नहाने के साथ-साथ मौज मस्ती करने के लिए आते है तथा यहाँ जड़ी-बूटियों पर आधारित शरीर की मालिस भी कराते  है

जो आयुर्वेदिक बॉडी मसाज होता है जिससे आपके शरीर की थकावट भी दूर हो जाती है यहाँ ठहरने के लिए आपको छोटे होटलों के साथ-साथ 5 सितारा होटल तक मिल जायेंगे आप अपने इच्छानुसार ठहरने के लिए होटल चुन सकते है जहां आपको कांटीनेंटल भोजन से लेकर दक्षिण भारतीय व्यंजन तक उपलब्ध होती है

Best time to visit Kovalam beach |कोवलम केरल बिच जाने के लिए सबसे अच्छा समय –

ताकोवलम के बिच पर घुमने का सबसे अच्छा मौसम सितम्बर से लेकर मार्च तक का माना जा है

Can you swim in Kovalam beach? – 

आप इस बिच पर सावधानी के साथ आसानी से तैराकी कर सकते है यहाँ बहुत से लोग नहाने के लिए ही आते है और यहाँ का लुफ्त उठाते है

best time to visit kerala |  केरल जाने का सबसे अच्छा समय कौन सा है ? | केरल जाने का सबसे अच्छा मौसम | केरल घूमने का सही समय क्या है? –

मै आपको बता दू की यहाँ पर सबसे ज्यादा भीड़ तो मानसून में ही होती है लेकिन ऑफ सीजन (off season) में भी बहुत से प्रयटक यहाँ आते है क्युकी कुछ लोग कम भीड़ में और कम खर्चो में घुमने के लिए ऑफ सीजन को चुनते है यहाँ पर्यटकों को घुमने के लिए हम 3 सीजन का चुनाव कर सकते है

ध्यान दे :-

पहला सीजन (पीक सीजन) – सितम्बर से लेकर मार्च तक का होता है

जिस समय यहाँ का मानसून खत्म हो चूका रहता है और मानसून खत्म होने के बाद भी यहाँ बहुत ही सुहावना मौसम बना रहता है और इसी दौरान जल गतिविधि (Water Activity) फिर से शुरू कर दी जाती है

सितम्बर से लेकर मार्च तक पिक सीजन होता है इसलिए यहाँ की अधिकतर होटल के कमरे पहले से ही बुक रहते है और ज्यादातर लोग क्रिसमस के दिन (Christmas Day) और नव वर्ष के दिन  (New Year) घुमने आते है इसीलिए उस समय भीड़ ज्यादा होती है अगर आप इस सीजन में केरल आना चाहते है तो आप होटल के कमरे और फ्लाइट की टिकट पहले से ही बुक कर लीजिये

सितम्बर से मार्च तक की गतिविधियाँ – 
  • सितम्बर – अरनामुला बोट रेस  तथा ओणम त्यौहार
  • सितम्बर से अक्टूबर के बिच – कुमारकोम बोट रेस 
  • नवम्बर –  चेम्बाई म्यूजिक फेस्टिवल
  • दिसम्बर – इंदिरा गांधी बोट रेस 
  • जनवरी – कोचिन कार्निवल

दूसरा सीजन (ऑफ सीजन) – अप्रैल से लेकर मई तक का होता है 

इस समय यहाँ गर्मी ज्यादा रहती इसीलिए यहाँ ज्यादा लोग नहीं आते है यह ऑफ सीजन होता है लेकिन अगर आप भीड़ से बचना चाहते है और कम खर्चो में केरल का सैर करना चाहते है तो आप इस सीजन में केरल की यात्रा कर सकते है इस सीजन में यहाँ का तापमान लगभग 30-40 डिग्री सेल्सियस तक रहता है और कभी-कभी इस सीजन में बारिश भी होती है और इस समय आपको केरल में होटल के कमरे सस्ते में ही मिल जाते है

अगर आप इस सीजन में घूमना चाहते है तो आप केरल के प्रमुख हिल स्टेशन  मुन्नार और वायनाड में घूम सकते है क्युकी इस सीजन में भी मुन्नार और वायनाड में अलग स्थानों के मुकाबले ठंडी का माहौल बना रहता है

ऑफ सीजन के त्योहार 

अप्रैल – विशु  (मलयालम कैलेंडर का पहला दिन)

मार्च से अप्रैल के बिच – इस्टर ( ईसाई धर्म का खास पर्व)

 

तीसरा सीजन (मानसून सीजन ) जून से लेकर अगस्त तक का होता है 

इस सीजन में केरल में बहुत ही अत्यधिक बारिश होती है इसलिए यहाँ लोगो की भीड़ कम होती है लेकिन अगर आपको बारिश बहुत ही ज्यादा पसंद है तो आपके लिए यह सबसे सुनहरा मौका है केरल की यात्रा के साथ-साथ एक यादगार पल बनाने का क्युकी इस सीजन में केरल के नदियों और झरनों की खूबसूरती मानो जैसे इनमे नयी जान आ गई हो जो अपने उफान पर रहते है

तथा मुन्नार और थेक्कडी जैसे इलाको की हरियाली मानो जैसे किसी स्वर्ग जैसा एहसास दिलाती है जहां ठंडी-ठंडी हवाएं जो हमारे मन को बहुत ही सुकून देती हैं एक शब्दों में कहा जाएँ तो केरल की प्राकृतिक सुन्दरता देखनी है तो आप इस सीजन को ही चुने क्युकी इस सीजन में केरल सबसे ज्यादा सुन्दर दीखता है

मानसून सीजन के त्योहार –

जून-जुलाई –

कोट्टियूर और इक्करे कोट्टियूर में कोट्टियूर उत्सवम आयोजित होता है

 आलप्पुष़ा जिले के चंपक्कुलम गांव में पंबा नदी पर चंपाकुलम बोट रेस होता है

अगस्त –

अलप्पुझा के पास पुन्नमदा झील नेहरु ट्रॉफी बोट रेस होता है

What are the famous dishes of Kerala? |  केरल के प्रसिद्ध व्यंजन क्या है?

  • ओणम 
  • पुट्टू-काडला करी 
  • अप्पम 
  • इदियप्पम-एग करी 
  • डोसा 
  • कल्लप्पम
  •  पत्तिरि
  • पारंपरिक पुट्टु
  • इडियप्पम और भाप में पका कसावा
  •  चिकन और मटन 
  • सड्या
  • आलेप्पी फिश करी ,
  • मलबार फिश करी ,
  • अवियल,
  • तोरन,
  • कूट्टुकरी

How ToReach Kerala By Road ? | सड़क मार्ग से केरल तक कैसे पहुंचे ? | कैसे पहुचे केरल ? –

अगर आप सड़क के माध्यम से केरल की यात्रा करना चाहते है तो केरल तमिलनाडु और कर्नाटक से सीधा जुड़ा हुआ है जो राष्ट्रिय राजमार्ग 17 , 47 , 49 और धातु की सडको का एक विस्तारित प्रणाली ( Extended System )  केरल को देश के अन्य राज्यों से जोड़ता है जो बस , पर्टैयटक टेक्सी  , कैब  सड़क परिवहन का मुख्य साधन है 

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
kerala By Road

How ToReach Kerala By Train ? |रेल मार्ग से केरल तक कैसे पहुंचे ? | कैसे पहुचे केरल ? –

केरल रेल के माध्यम से भारत के प्रमुख शहरो से जुड़ा हुआ है जैसे , – दिल्ली , मुंबई , चेन्नई , कोलकाता के माध्यम से आप आसानी से केरल आ सकते है केरल में लगभग 200 तक रेलवे स्टेशन है

About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
Kerala RailwayStation

How ToReach Kerala By Air (Flight) ? | हवाई मार्ग से केरल तक कैसे पहुंचे ? | कैसे पहुचे केरल ? –

सबसे पहले तो मै आपको बता दू की केरल में 3 एअरपोर्ट  मौजूद है जहां आप हवाई यात्रा का आनंद उठाते हुए केरल की सैर कर सकते है  आप अपने शहर के हवाई अड्डे से उड़ान भरकर केरल के इन एअरपोर्ट पर उतर सकते है

तिरुवंतपुरम          अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डाInternational Airport
करिपुर हवाई अड्डा कोच्ची घरेलू एयरलाइंसDomestic Airlines
कोझिकोड घरेलू एयरलाइंसDomestic Airport
About Kerala in Hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में
kerala Airport

2 thoughts on “information about kerala in hindi language | केरल की जानकारी हिंदी में”

Leave a Comment